Hair Fall ka Ilaj

Hair loss can affect both men and women

बालो के झडनें का ईलाज

बालों का झड़ना रोकने के आयुर्वेद की मदद से उपचार


बालों का झड़ना आज एक तेजी से फैलने वाली बिमारी बन चुका है, झडते बालो से निजात पाने के लिए कई लोग शैम्पू बदलना काफी समझते है, उपरी तौर पर हो सकता है की कुछ राहत कमल जाए लेकिन अंदरुनी तौर पर बाल झडने के कई कारण हो सकते है, उचित पोषण का न मिलना, बालो मे किसी प्रकार का संक्रमण या कई बार अनुवांशिक कारण भी हो सकते है, इसलिये बालों का झडना रोकने के लिये आईये विस्तार से समझते है.

बालों का झडना रोकने के चिकित्सकीय तरीके:

1. विटामिन डी की भूमिका
विटामिन डी बालों को बढने के लिए यह जरुरी तत्व है विटामिन डी की खासयित है कि आयरन और कैलशीयम को सोख लेता है, बालो के गिरने की एक वजह आयरन की कमी भी है, यदपि प्रतिदिन 15 मिनट भी सूर्य की किरणों से सीधे संपर्क में रहेगें तो इससे आपको विटामिन डी की खुराक मिल जाएगी लेकिन बहुत ज्यादा गर्मी में सूर्य की किरणों के सीधे संपर्क में आने से बचें।
2. पौष्टिक खाना खाईयेः
पौष्टिक खाना आपको कई तरह की समस्याओं से बचाने का काम करता है यहाँ ये बताना आवश्यक है जंक फुड, डिब्बा बंद आहार, तैलिय प्रदार्थ, वगैरह में पौष्टिक तत्वों की कमी होती है इसलिये इन्हे खाने से आपके शरीर को सही मात्रा में आयरन, कैल्शीयम जिंक, विटामिन सी और प्रोटिन वगैरहा नही मिल पाते हैं बालो के वृद्वि और विकास के लिये ये बेहद जरुरी है इसलिये हरी सब्जियाँ, फल, सूखे मेवे, दूध, अंडे खाईये ताकि पौष्टिक आहारों की कमी को पूरा किया जा सके
3. ध्रुमपान से बचें
ध्रूमपान करने से अथेरोसेलेरोससि की स्थिति बनती है, इसमें आपके शरीर की नसों और रगो पर मैल की परत जमा हो जाती है इसकी वजह से पूरे शरीर के रक्त संचार में बाधा पहुँचती है ऐसे में यदि आप पौष्टिक आहारो का सेवन कर भी रहे है तो भी पौष्टिक तत्व आपके बालो की जड तक नही जा पाते है क्योकि अथेरोसेलेरोसीस की वजह से आपके सिर तक प्रार्यप्त मात्रा मे रक्त नही पहुँचता है और इससे आपके बाल कमजोर होकर गिरने लगते है।
4. हानिकारक रसायनो के इस्तेमाल से बचें
अपने झडते हुए बालों को बचानें के लिए कई लोगो को सबसे आसान उपाय लगता है शैम्पू बदल लेना, भ्रामक विज्ञापनो के जाल में फंसकर कई बार हानिकारक केमिकल वाले शैम्पू भी लगा लेते है इससे बालो का झडना तो क्या रुकेगा इससे और वृद्वि हो जाती है इसलिये ये बेहद जरुरी है कि इसके लिये उचित उपचार करें
5. ज्यादा गर्मी और बाल रंगने से बचें।
यदि आपके बाल झड रहे है तो आपको आत्यधिक गर्मी और बालो को बहुत ज्यादा रंगने या डाई करने से बचना चाहिए इसलिये जब तक जरुरी न हो आपको बालो पर केमिकल लगाने से बचना चाहिए।
6. व्यायाम की भूमिका
व्यायाम आपके शरीर मे रक्त संचार को बढाता है इसका फायदा ये होता है कि जिन छिद्रो तक रक्त नही पहुच पाता वहां भी रक्त संचार होना शुरु हो जाता है सिर के बाल दरअसल हमारे शरीर के सबसे उपरी हिस्से में स्थित होते है यहाँ रक्त छिद्रों में कई बार उचित पोषण और रक्त नही पहुँच पाता है इसलिये जब हम व्यायाम करते है तो रक्त संचार में आई त्रीवता की वजह से सिर के उपरी हिस्से में भी खून और पोषक तत्वों की सही मात्रा पहुचती है इससे आपके बालो की झडना रुकता है।
7. पानी की भूमिका
आपकी त्वचा, बाल, रक्त, शुक्राणु इन सबको स्वास्थ रहने के लिये और अपना कार्य करने क्षमता से करने के लिये पानी की आवश्यकता होती है जब हम पानी पीते हैं ता आप अपने कोशिकाओं और इन्द्रीयों को एक तरह से सीचतें है इससे आपके रक्तसंचार में सुधार होने के साथ ही किसी भी रोग को रोकने की शक्ति पैदा होती है आपके बालो की जडें भी मजबूत होती है लीवर से और आपकी त्वचा की कई सतहो के नीचे से विषैले तत्व बाहर निकाल फेकता है पानी आपके बालों में एक नई चमक पैदा करता है और उन्हें स्वास्थ और मजबूत बनाये रखता है।
8. तनाव से बचियें।
जाहिर है तनाव कई बिमारियों को जन्म देता है बालो का झडना उन बिमारियों में से एक है इसलियें यदि आप अनावश्यक बिमारियों से बचना चाहते है तो आप तनाव को टाटा बाय बाय कहियें हांलाकि कहना आसान है लेकिन ज्यादा मुश्किल भी नही है बस आपको तय करना है इसके लिये आप योग ओर ध्यान की मदद ले सकते है।

बालो के झडनें का आयुर्वेदिक ईलाज कैसे किया जाता हैं?

प्राकृति में अनेको ऐसी जडी बूटियाँ हैं जोकि बालों की समस्या को खत्म करने में सक्षम है जैसे कि भृंगराज, मुसली, शिकाकाई, हिना, रतनजोत, रीठा, गोठू कोला, जाटामासी, इन्द्रायन, प्लमबैगो जेलनिका, निफाया अल्बा, चन्दन, तिल, कपूर, आंवला, । मुमताज हेयर आयल इन्ही जडी बुटियों का अदभूत संगम है। इस तेल के नियमित प्रयोग से बालो का झडना बंद हो जाता है। और 2 महीने मे समस्या जड से खत्म हों जाती है।

उपचार के दिशा निर्देश क्या है? उपचार के साथ कुछ परहेज भी अति आवश्यक हैं

1. तला व आपच्य भोजन न करें।
2. खटटे फलो व भोजन का परहेज करें।
3. ध्रुमपान, शराब एवं किसी भी नशीले प्रदार्थ का सेवन न करें।

रोगियों की जीवन शैली में बदलाव होने जरुरी है। इसमें एक संतुलित आहार और नियमित व्यायाम शामिल हैं।

ठीक होने में कितना समय लगता है

बाल झडने से रुकने मे एक से ढेड महीने का समय लगता है। और बाल वापस उगने में चार से पाँच महीने का समय लगता है
इसके लिये उपरोक्त दिये परहेज अति आवश्यक है। इनके बिना ईलाज कराने का कोई फायदा नहीं है। आपको सुबह व शाम मुमताज हेयर आॅयल से सिर की मसाज करनी होगी साथ ही सुबह शाम भोजन के बाद 1-1 गोली पानी के साथ लेनी होगी

ईलाज की कीमत क्या है

मुमताज हेयर आॅयल बाल झडने से रोकने का बेहतरीन ईलाज हैं। यह डा0 शेख द्वारा बनाया हुआ अचुक नुक्खा है। मुमताज हेयर आॅयल की कीमत 1200 रुपये है। जोकि 30 दिन के लिये काफी है।

क्या उपचार के परिणाम स्थायी है

मुमताज हेयर आॅयल आपके सिर को बालों के लिये फिर से उर्वक बना देता है। यह एलोपैथीक दवाईयों की तरह एक दो दिन में आराम नही करता आयुर्वेद के ईलाज में समय लगता है पर ये समस्या की जड तक पहँच कर उसका स्थाई समाधान करता है।

उम्मीद करते हैं कि आप हमारी बात समझ पायें होगें अगर अभी भी कोई शंका हैं तों हमारी भी हेल्प लाईन पर काॅल करें आपकी पूरी सहायता की जायेगी


 Enquiry Now Whatsapp  Call Now